Breaking News

कोरोना वैक्सीन को लेकर भारत और रूस के बीच चर्चा जारी

Corona Vaccine को लेकर रूस के साथ भारत कर रहा बातचीत, सरकार कर रही प्रस्ताव का अध्ययनक्या भारत को रूस की कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक V जल्द मिल सकती है? भारत और रूस के बीच इस वैक्सीन के आदान-प्रदान को लेकर कई स्तरों पर बातचीत चल रही है। रूस के राजदूत निकोलय कुशादेव ने इस बारे में जानकारी दी है।

 
ty

  • कोरोना वैक्सीन को लेकर भारत और रूस के बीच चर्चा जारी
  • वैक्सीन की सप्लाई समेत कई अहम मुद्दों पर दोनों देश कर रहे बातचीत
  • 11 अगस्त को रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने लॉन्च की थी कोरोना वैक्सीन

भारत शनिवार को कोरोना के कुल केस के मामले में दुनिया में दूसरे नंबर पर पहुंच गया है। बढ़ते मामलों के बीच कोरोना वैक्सीन को लेकर रविवार को राहत भरी खबर भी आई है। हाल ही में लॉन्च की गई रूस की कोरोना वैक्सीन की सप्लाई और उत्पादन को लेकर भारत और रूस के बीच कई स्तरों पर बातचीत चल रही है। भारत में रूस के राजदूत निकोलेय कुशादेव ने इस बात की जानकारी दी है।

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 11 अगस्त को दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन को लॉन्च किया था। इस वैक्सीन का नाम स्पूतनिक V है। रूस के साथ वैक्सीन की सप्लाई, साथ मिलकर उत्पादन समेत अन्य मुद्दों पर चर्चा हो रही है। आपको बता दें कि लैंसेट जर्नल के अनुसार शुरुआती ट्रायल में इस वैक्सीन का कोई गंभीर साइड इफेक्ट सामने नहीं आया है।

रूस ने वैक्सीन को लेकर दिया प्रस्ताव
आधिकारिक सूत्रों ने हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया को जानकारी दी है की रूस ने भारत के साथ स्पूतनिक V को लेकर सहयोग के तरीके साझा किए हैं। भारत सरकार फिलहाल इसका बारीकी से अध्ययन कर रही है। रूस के राजदूत कुशादेव ने कहा ‘कुछ जरूरी तकनीकी प्रक्रियाओं के बाद वैक्सीन बड़े पैमाने पर (अन्य देशों में भी) इस्तेमाल की जा सकेगी।’

 वैक्सीन को लेकर होगी बातचीत
माना जा रहा है कि विदेश मंत्री एस जयशंकर के हालिया रूस दौरे के दौरान भी कोरोना के टीके को लेकर चर्चा होगी। आपको बता दें कि रूस इसी हफ्ते से कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक वी को आम नागरिकों के लिए उपलब्ध कराने जा रहा है। इस वैक्सीन को मॉस्‍को के गामलेया रिसर्च इंस्टिट्यूट ने रूसी रक्षा मंत्रालय के साथ मिलकर एडेनोवायरस को बेस बनाकर तैयार किया है।

Check Also

अंतरराष्ट्रीय-स्पेस-स्टेशन-से-अंतरिक्ष-यात्रियों-ने-कहा-पृथ्वी-हमेशा-की-तरह-शानदार-दिख-रही;-पर-नीचे-जो-हो-रहा,-उस-पर-यकीन-करना-मुश्किल

अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन से अंतरिक्ष यात्रियों ने कहा- पृथ्वी हमेशा की तरह शानदार दिख रही; पर नीचे जो हो रहा, उस पर यकीन करना मुश्किल

🔊 इस खबर को सुने बयूरो रिपोर्ट अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन (आईएसएस) के अंतरिक्ष यात्रियों ने …