Breaking News

न माक्स न ग्लब्स और न सेनेटराइज, ऊपर से लंबे समय से वेतन बंद, आशा कार्यकर्ताओं ने सुनाई पीड़ा।*

 

रवि पोरवाल पिपलीया मंडी

*न माक्स न ग्लब्स और न सेनेटराइज, ऊपर से लंबे समय से वेतन बंद, आशा कार्यकर्ताओं ने सुनाई पीड़ा।*
मंदसौर आशा कार्यकर्तता सहयोगी    साथ मिलकर जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ मोर्चा खोल अनिश्चित कालीन हड़ताल पर उतरे वही प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारियों पर सौतेले व्यहवार करने के लगाए घम्भीर आरोप। हमारे संवाददाता रवि पोरवाल को जानकारी देते हुए बताया कि पुरे कोरोना काल मे आशा कार्यकर्ताओं ने अपने सहयोगिनी के साथ मिलकर निरंतर हाई रिक्स एरिये में घर घर जाकर सेवाएं दी लेकिन जिम्मेदार अधिकारियों ने आज तक न तो हमारी सुरक्षा के लिए मास्क दिए न ग्लब्स दिए और न ही हाथ साफ करने के लिए सेनेटराइज दिए ऐसे में हमने कूद अपने स्वयं के खर्चे से हमारी सुरक्षा की वही कई आशा कार्यकर्ताए बीमार तक हो गई लेकिन किसी जिम्मेदार अधिकारियों ने कोई सुध नही ली साथ ही विगत 6 महीनों से मानदेय नही मिल रहा है ऐसे में घर परिवार की आर्थिक स्थिति बिगड़ने लगी जिम्मेदार अधिकारी इस और दे ध्यान।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश मंदसौर जिले के मल्हारगढ़ ब्लॉक के अंतर्गत आशा कार्यकर्ताओं ने अपने सहयोगिनी के साथ दोपहर मल्हारगढ़ स्वास्थ केंद्र पंहुचे और मल्हारगढ़ BMO वीके सुरा को एक ज्ञापन देकर लंबे समय से रुके मानदेय जल्द दिलवाने की मांग की साथ ही जानकारी देते हुए बताया कि गांव गांव के सरपंच सचिव ले लेकर हर जिम्मेदार जनप्रतिनिधि हमारे अधिकारी बनते है और कोविड पॉजिटिव पेसेंस्ट के घर घर तक पहुचकर अपना कार्य करते है लेकिन आज तक हमे कोई सुविधा नही दी जाती है आशा कार्यकर्ताओं ने बताया है कि जबतक हमारी मांगे पूरी नही होती वहा तक अनिश्चित काल तक हड़ताल पर रहेंगे।
*मंदसौर से रवि पोरवाल की रिपोर्ट।*

Check Also

मिड इंडिया अंडरब्रिज का निर्माण बंद करने से बढ़ी नाराजी, रेलवे जीएम व कलेक्टर को धारा 80 सीपीसी का नोटस – वार्ड 5 व 21 के हर मतदाता के लिए मांगी 1-1 लाख क्षतिपूर्ति – तय समय पर कार्य पूर्ण नहीं करना घोर लापरवाही, दोनों वार्ड के 30 हजार रहवासी भोग रहे हैं परेशानी

🔊 इस खबर को सुने burning politicsमन्दसौर संपादक प्रकाश शर्मा 08889179492 खबर विघापन के लिए संपर्क …